हाथरस हादसे के बाद पांच नंबरों से बाबा को 20 कॉल किए गए हैं. मुख्य आयोजक सहित उसके पांच सहयोगियों ने भोले बाबा उर्फ सूरजपाल को एक-एक घटनाक्रम की जानकारी दी है. माना जा रहा है कि फिर बाबा के निर्देश प्राप्त होने पर ही सभी ने भूमिगत होने का कदम उठाया है.

पुलिस की एसओजी टीमों ने बुधवार से मुख्य आयोजक व अन्य की गिरफ्तारी के लिए अभियान तेज किया गया. जब इनकी लोकेशन जानने के लिए इनके मोबाइल नंबरों पर काम शुरु किया गया तो पाया गया कि मुख्य आयोजक सहित पांच नंबर ऐसे हैं जिन्होंने हादसे के बाद तत्काल एक ही नंबर पर लगातार 20 बार काल किया है.

इसके बाद से वो पांचों नंबर बंद हो गए है. जिस नंबर पर कॉल किया गया है. वो जांच में नंबर बाबा का पाया गया है. इसके बाद से ही माना जा रहा है क बाबा को इन लोगों ने पूरी जानकारी दी है. माना जा रहा है कि बाबा ने उन्हें शायद छिपने के ठिकाने भी बताए हों. ये भी इस दौरान बताया गया हो कि किन-किन लोगों को जरुरी तौर पर हाथ नहीं आना है. हालांकि इन तमाम सवालों के जवाब इनकी गिरफ्तारी के बाद ही मिलेंगे.

आईजी शलभ माथुर ने कहा कि जांच का दायरा बढ़ता जा रहा है. जो भी तथ्य जांच में सामने आ रहे हैं. उसके अनुसार ही कार्रवाई की जा रही है. जांच में नाम सामने आने पर भोले बाबा से पूछताछ की जा सकती है. मुकदमे की विवेचना सीओ रामप्रवेश राय को सौंपी गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here