Image credit: samajwadi party

किसानों के समर्थन और कृषि कानूनों के विरोध में किसान यात्रा निकालने जा रहे सपा मुखिया अखिलेश यादव को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. सपा अध्यक्ष की गिरफ्तारी के बाद पूरे प्रदेश में सपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया. कई जगह पुलिस और सपाइयों में झड़प भी हो गई.

कन्नौज जाने के लिए निकले अखिलेश यादव के काफिले को जब रोका गया तो वो पैदल ही चल पड़े. इसके बाद पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो वो धरने पर बैठ गए. अखिलेश लगातार कन्नौज जाने की जिद करते रहे इसके बाद पुलिस ने डन्हें गिरफ्तार करके ईको गार्डेन भेज दिया.

Image credit: samajwadi party

गिरफ्तारी के बाद अखिलेश ने ट्वीट करते हुए कहा कि हम भी देखते हैं कि भाजपा कितने दिन रोकेगी. अखिलेश ने कहा कि ख़ुद समारोह कर रही व विपक्ष को कोरोना के नाम पर गिरफ़्तार कर रही भाजपा के दोहरे मानदंड जनता देख रही है. भाजपा हताश है क्योंकि किसानों के साथ अब जनता भी जुड़ गयी है. जब सत्ता दमनकारी हो जाती है तो आंदोलन को क्रांति बनते देर नहीं लगती.

अखिलेश यादव ने भारत बंद में 8 दिसम्बर 2020 को शामिल होने की घोषणा की है. समाजवादी पार्टी आंदोलनकारी किसानों के साथ है. समाजवादी पार्टी किसानों की पार्टी है. समाजवादी पार्टी की नीतियां हमेशा किसानों के पक्ष में रही है. वह आज भी किसानों के साथ है. किसान कड़ाके की ठण्ड में अपनी न्यायोचित मांगों को लेकर धरना दे रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here