आनंद मोहन की लाड़ली सुरभि आनंद अब मुंगेर की बहू बन चुकी हैं. 15 फ़रवरी को पटना स्थित एक निजी फार्म हाउस पर सुरभि ने राजहंस सिंह से विवाह रचाया. 18 फ़रवरी को उनका रिसेप्शन था. इस दौरान वधू को आशीर्वाद देने कई नेता पहुँचे. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने रिसेप्शन में पहुँच कर वर वधू को आशीर्वाद दिया. पूर्व मंत्री बीजेपी नेता नीरज सिंह बबलू भी समारोह में शामिल हुए.

अपने रिसेप्शन में सुरभि ने हरे रंग की साड़ी पहनी थी, जिसमें वह काफ़ी खूबसूरत दिख रहीं. मुंगेर में सुरभि के ससुराल की ओर से रिसेप्शन का आयोजन किया गया था. इस दौरान नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद देने कई लोग पहुँचे. दोनों काफ़ी खुश नज़र आ रहे थे.

सुरभि सुप्रीम कोर्ट में वकील हैं. राजहंस रेलवे में आइआरसीटीसी ऑफिसर हैं. सुरभि एक किसान परिवार की बहू बनी है क्योंकि राजहंस के पिता एक किसान हैं और लगभग 100 बीघा ज़मीन के मालिक हैं. साल 2019 में राजहंस ने यूपीएससी की परीक्षा पास की थी.

पूर्व सांसद आनंद मोहन अपनी बेटी की शादी में शामिल होने के लिए पे रोल पर जेल से बाहर आए थे. बेटी को विदा करते वक्त वह भावुक हो गए. किसी भी पिता के लिए बेटी की विदाई एक बेहद भावुक कर देने वाला पल होता है. कुछ ऐसा ही हुआ जब आनंद मोहन अपनी लाड़ली बेटी की विदाई कर रहे थे. भावुक होकर वह रोने लगे.

बाहुबली पूर्व सांसद आनंद मोहन बिहरा के सहरसा जेल में बंद हैं . उन्होंने अपनी रिहाई पर कहा कि मैंने सजा को स्वीकार है. मेरी सजा भी पूरी हो गयी है. लेकिन, मैं एक क़ैदी होने के नाते कैसे बता सकता हूँ कि रिहाई कब और कैसे होगी. नीतीश कुमार ने मेरी रिहाई की बात मंच से कहा है तो वे इस पर दृढ़ हों.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here