हाथरस घटना के बाद चर्चा में आने वाले नारायण साकार हरि महाराज उर्फ़ सूरजपाल भोले बाबा अपने अनुयायियों से कहता था कि जरूरत पड़ी तो वह धरती पर प्रलय भी ला सकता है। सेवादार तो बाबा को इंसान नहीं मानते हैं उन्हें भगवान समझते हैं, लेकिन बाबा ख़ुद भी कहता है कि उसने अवतार लिया है।

अपने एक सत्संग के दौरान बाबा का कहना है कि जरूरत पड़ी तो मैं प्रलय ला सकता हूं. मैं पूरी शक्ति के साथ आया हूं, शुरुआत से ही सब कुछ शुरू करूंगा, मैं प्रतिज्ञा करता हूं कि मैं अधर्म को खत्म करूंगा. जो लोग मेरे धर्म और मेरे नाम को बेच रहे हैं, मैं उनका पतन सुनिश्चित करूंगा.

साकार हरि भोले बाबा के अनुयायियों के मुताबिक़, बाबा कहता था कि जिन्होंने खुद को फर्जी भगवान और फर्जी सद्गुरु घोषित कर रखा है, मैं उन्हें डरा दूंगा, मैं उनका पतन सुनिश्चित करूंगा. मैंने हिंदू-मुस्लिम-सिख-ईसाई के बीच की नफरत को खत्म करने के लिए अवतार लिया है.

सेवादारों का जारी है बाबा का महिमामंडन

हाथरस त्रासदी के बाद भी बाबा के महिमामंडन को लेकर सोशल मीडिया पर सेवादार चर्चा कर रहे हैं. 121 लोगों की जान लेने वाली त्रासदी के बावजूद, नारायण साकार हरि के सेवादारों/कमांडों ने सोशल मीडिया पर लोगों को भ्रमित करना जारी रखा है. इंस्टाग्राम लाइव में नारायण साकार हरि के सेवादार यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि बाबा ने त्रासदी की भविष्यवाणी की थी, वह कहते हैं, ‘बाबा ने माइक से कहा था कि प्रलय आएगा और वही हुआ.

सेवादार कहते हैं कि बाबा इंसान नहीं हैं, बाबा कोई सामान्य प्राणी नहीं हैं, बाबा स्वयं भगवान हैं. सेवादारों में से एक ने कहा, ‘मेरे परिवार के सदस्य भी गए थे, लेकिन वे बिना किसी चोट के वापस आ गए, इस त्रासदी में जो लोग प्रभावित हुए हैं, वे लोग हैं जो बाबा को नहीं समझते हैं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here