उत्तर प्रदेश में शासन ने कोविड-19 को लेकर नयी गाइडलाइन जारी कर दी हैं. नयी गाइडलाइन में कोरोना संक्रमण पर नियनत्रण के लिए स्थिति का आंकलन करते हुए नाईट कर्फ्यू लगाने का निर्देश दिया गया है. इसका फैसला स्थानीय प्रशासन लेगा. सोशल डिस्टेंससिंग का पालन कराने के लिए धारा 144 लागू कराने का भी निर्देश दिया गया है.

शादी, ब्याह जैसे कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए जो सीमा पहले तय की गयी थी वही लागू रहेगी. यानि हाल में क्षमता का 50 फीसदी और अधिकतम 100 लोगों को ही शामिल करने के लिए कहा गया है.

खुले मैदान में या लॉन में क्षमता का 40 प्रतिशत ही लोगों को एक समय में शामिल होने की अनुमति होगी. यानि अगर खुले लॉन में कुल क्षमता दो हजार है तो वहां 800 लोग ही एकत्र होंगे.

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इससे जुड़े अधिकारीयों को निर्देश दिए थे. उन्होंने कहा था कि कहीं से भी पुलिस द्वारा दुर्व्यवहार की खबर आई तो सम्बंधित पुलिस कर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी और अधिकारीयों की जवाबदेही तय की जाएगी.

मेरठ में विवाह मंडपों में पुलिस द्वारा किए गए दुर्व्यवहार से नाराज सीएम योगी ने यह निर्देश दिया था. बीते मंगलवार और बुधवार को मेरठ पुलिस ने अभियान चलाकर शादी के मंडपों में पहुंचकर रंग में भंग किया था. दुल्हे समेत कई लोगों के खिलाफ मेरठ के लालकुर्ती थाने और सिविल लाइन थाणे में एफआईआर दर्ज की थी.

इसके अलावा शादी के मंडपों में छपा मारकर कोरोना की गाइडलाइन का पालन न करने पर बाराती समेत लड़की के घर वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी थी. इसे लेकर लोगों ने रोष जताया था और शिकायत मुख्यमंत्री योगी तक पहुंची थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here