बेटी का जन्मदिन था और वह केक व उपहार के लिए जिद कर रही थी. गरीब पिता पैसे न होने से मजबूर था. इतने पैसे नहीं थे कि बेटी को केक लाकर दे सके. बेटी का मन बहलाने के लिए घर से निकल गया. रास्ते में लूट की कहानी बना दी. पुलिस को सूचना दे दी. पुलिस ने पूछताछ की तो सारी हकीकत बता दी.

यह मामला आगरा के हरिपर्वत थाने का है. शनिवार रात पुलिस को सूचना मिली कि बाइक सवार बदमाश दस हजार रूपये और मोबाइल लूट कर ले गए हैं. इस पर थाना प्रभारी निरीक्षक अजय कौशल सहित थाने की फ़ोर्स पहुंच गयी.

यहां न्यू आगरा के कौशलपुर निवासी आनंद शर्मा मिला. उसने बताया कि एटीएम से रूपये निकाले थे. जैसे ही बाहर आया दो बदमाश आ गए. रूपये और मोबाइल लूट कर भाग गए. इस पर पुलिस ने छानबीन शुरू करदी. थाने लाकर आनंद से पूछताछ की. लेकिन उसके पास एटीएम कार्ड ही नहीं था.

पुलिस को शक हुआ तो उससे और बात की. तब उसने बताया कि आज उसकी बेटी का जन्मदिन है. बेटी केक और उपहार लाने के लिए जिद कर रही थी. इस पर वह घर से निकल आया. लूट का ड्रामा इसलिए रच दिया कि घर जाएगा तो इस घटना की जानकारी देगा और कोई उसे केक लाने के लिए कहेगा.

यह बात सुन थाना प्रभारी का दिल पसीज गया. उन्होंने उससे माफीनामा लिखवाया. इसके बाद केक मंगवा कर दिया. बेटी के लिए केक मिलने पर आनंद की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा. उसने पुलिस को धन्यवाद दिया और केक लेकर चला गया.

वहीं आनंद ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से उसकी नौकरी छूट गयी है, किसी फैक्ट्री में टेम्परेरी काम करता है और पैसों की बहुत किल्लत है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here