चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर 27 नवंबर को सुनवाई की जानी है. चारा घोटाले मामले के दोषी लालू प्रसाद यादव 5 में से 4 मामलों में दोषी करार दिए जा चुके हैं. 4 मामलों में से 3 में उन्हें जमानत मिल चुकी है. जबकि 5 वें मामले में अभी भी सुनवाई चल रही है.

ये मामला डोरंडा कोषागार से अवैध रुप से 139 करोड़ रुपये की निकासी का है. अगर लालू यादव को 3.13 करोड़ रुपये के अवैध निकासी के मामले में बेल मिल जाती है तो उनके जेल से बाहर आने का रास्ता साफ हो जाएगा.

image credit-getty

गौरतलब है कि इससे पहले लालू यादव को चाईबासा के दो और देवघर मामले में जमानत मिल चुकी है. उन्हें चार मामलों में सजा मिली है. उन्हें चार मामलों में सजा मिली है, हालांकि इन मामलों में सीबीआई की ओर से जमानत का विरोध भी किया जा सकता है. चारा घोटाले के कई मामलों को लेकर राजद सुप्रीमों पिछले कई महीनों से रांची की होटवार जेल में सजा काट रहे हैं.

उनकी खराब तबियत को देखते हुए रांची के रिम्स में भर्ती कराया गया है जहां पर उनका इलाज चल रहा है. गौरतलब है कि रिम्स में स्थित केली बंगले में इन दिनों अपनी सजा काट रहे लालू यादव के ऊपर यहीं से बिहार के विधायकों को फोन पर खरीद फरोख्त के भी आरोप लगे है जिससे बिहार की राजनीति में गर्माहट देखने को मिल रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here