देश और सरहद की सुरक्षा के लिए भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून में एक वर्ष की कड़ी मेहनत के बाद तैयार हुए 325 युवा कैडेट शनिवार को भारतीय सेना का हिस्सा बने. आईएमइ में पास आउट होने वाले कैडेटों में सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश से 50 कैडेट हैं. दूसरे नंबर पर हरियाणा है, जहां से 45 कैडेट हैं. तीसरे नंबर पर बिहार के 32 कैडेट हैं.

जून में बीती पीओपी में कोरोना महामारी के चलते पास हुए 333 भारतीय कैडेटों के परिजन इस एतिहासिक पल का हिस्सा नहीं बन पाए थे. हालांकि संक्रमण काल अभी भी जारी है लेकिन आईएमइ ने इसमें कुछ छूट दी है. इस बार पीओपी में कैडेटों के दो परिजन पीओपी में शामिल हो पाएंगे. इसके लिए उन्हें पीओपी से पहले 72 घंटे के भीतर कोरोना जांच निगेटिव दिखानी होगी.

किस राज्य से कितने पास आउट हुए कैडेट?

आंध्रप्रदेश                06
अरुणाचल प्रदेश         01
असम                    06
बिहार                    32
चंडीगढ़                  04
छत्तीसगढ़              02
दिल्ली                   13
गुजरात                  04
हरियाणा                 45
हिमाचल प्रदेश           10
जम्मू कश्मीर            11
झारखंड                  06
कर्नाटक                  05
केरल                     15
नेपाल                    04
मध्य प्रदेश               12
महाराष्ट्र                  18
मणिपुर                   03
मिजोरम                  02
ओडिसा                   04
पंजाब                     15
राजस्थान                 18
तमिलनाडू                06
तेलंगाना                  03
उत्तरप्रदेश                50
उत्तराखंड                 24
पश्चिम बंगाल            06

गोवा, सिक्किम,पुडुचेरी, नागालैंड, मेघालय, अंडमान निकोबार, त्रिपुरा, लद्दाख से एक भी कैडेट नहीं है. वहीं मूल रूप से नेपाल के निवासी और हाल में भारत में निवास कर रहे चार कैडेट भी भारतीय सेना का हिस्सा बने हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here