भारतीय प्रशासनिक सेवा की परीक्षा में लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की छोटी बेटी अंजलि बिरला ने सफलता पायी है. अंजलि का चयन पहली बार प्रयास में ही हुआ है. वह आईएएस के जरिए महिला सशक्तिकरण की दिशा में काम करना चाहती हैं. अपनी इस सफलता का श्रेय उन्होंने बड़ी बहन आकांक्षा को दिया है.

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की पत्नी अमिता बिरला ने बेटी की कामयाबी पर ख़ुशी जताते हुए कहा है कि उसने शुरू से ही कुछ अलग करने का ठान लिया था.

अमिता बिरला ने कहा कि एक मां के लिए बेटी की इससे बढ़कर क्या कामयाबी हो सकती है. अंजलि की प्राथमिक शिक्षा कोचिंग सिटी कोटा में ही हुई है. कोटा के सोफ़िया गर्ल्स स्कूल से उन्होंने बारहवीं क्लास पास की उसके बाद दिल्ली के रामजस कॉलेज से ग्रेजुएशन की. उसके बाद आईएएस की परीक्षा दी और कड़ी मेहनत कर भारतीय प्रशासनिक सेवा की परीक्षा में सफलता पायी और अपना सपना पूरा किया.

अंजलि बिरला की बड़ी बहन आकांक्षा बिरला ने भी छोटी बहन की सफलता पर ख़ुशी जाहिर की है. अंजलि अब महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में काम करना चाहती हैं. उनका कहना है कि ट्रेनिंग सेशन के बाद पहली प्राथमिकता महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में काम करना है. अंजलि के सेलेक्शन की खबर होते ही सोमवार को ओम बिरला के कोटा स्थित घर में जश्न का माहौल रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here