Image credit: social media

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से डाक विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है, यहां के प्रधान डाकघर से मशहूर अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन और माफिया मुन्ना बजरंगी के नाम पर डाक टिकट जारी कर दिया गया. ये डाक टिकट मॉय स्टांप योजना के तहत जारी किए गए हैं.

डाक विभाग ने पांच रूपये वाले 12 डाक टिकट छोटा राजन के नाम पर और 12 डाक टिकट मुन्ना बजरंगी के नाम पर जारी कर दिए. इसके लिए बाकायदा निर्धारित फीस भी डाकघर में जमा की गई. अब इस मामले के सामने आने के बाद डाक विभाग में हड़कंप मच गया और आनन फानन में पूरे मामले के जांच के आदेश दे दिए गए.

डाक टिकट छापने से पहले डाक विभाग ने न तो फोटो की पड़ताल की और न ही किसी तरह का प्रमाणपत्र मांगा. डाक विभाग के पोस्ट मास्टर जनरल वीके वर्मा ने कहा कि मॉय स्टांप योजना के तहत जो नियम बने हुए हैं उसके मुताबिक टिकट जारी करवाने वाले शख्स को खुद डाकघर आना होता है.

Image credit: social media

यहां वेबकैम के जरिए उसकी तस्वीर ली जाती है, प्रमाण पत्रों की जांच के बाद ही ये डाक टिकट जारी किए जाते हैं. इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि साल 2017 में केंद्र सरकार ने मॉय स्टांप योजना की शुरूआत की थी. इसके तहत कोई भी व्यक्ति अपनी ये अपने परिजनों की फोटो वाले 12 टिकट 300 रूपये का शुल्क अदा कर बनवा सकता है. इसके लिए आवेदक को पूरा ब्यौरा देना होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here