IMAGE CREDIT-GETTY

बिहार की चर्चित नितीश कुमार और सुशील मोदी की राजनीतिक जोड़ी फिलहाल टूटती नहीं दिखाई दे रही है. इस बार जब बीजेपी की ओर से सुशील मोदी को उपमुख्यमंत्री नहीं बनाया गया तो लगा कि दोनों नेताओं के बीच दूरी बढ़ जाएगी मगर ऐसा हुआ नहीं. नितीश कुमार ने सुशील मोदी को अपने साथ रखने के लिए महत्वपूर्ण पद पर उन्हें नामित कर दिया.

सीएम नितीश कुमार ने सुशील मोदी और संजय झा को विधान भवन में अलग अलग समितियों का अध्यक्ष बना दिया. सुशील मोदी को आचार समिति का अध्यक्ष तो संजय झा को याचिका समिति के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी गई है. दोनों समितियां विधान परिषद की स्थाई समिति हैं और बेहद ही महत्वपूर्ण हैं.

IMAGE CREDIT-SOCIAL MEDIA

विधानसभा या विधानमंडल के किसी सदस्य या अधिकारियों के खिलाफ भी काम में किसी प्रकार की लापरवाही की शिकायत पर आचार समिति का अध्यक्ष की कार्रवाई करता है. विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है.

कहा ये भी जा रहा है कि मंत्री नहीं बनाए जाने की सूरत में दोनों नेताओं का सरकारी बंगला छिन न जाए इसलिए दोनों को ये पद दिए गए हैं. बता दें कि जब जीतनराम मांझी बिहार के मुख्यमंत्री बनाए गए थे तो नितीश कुमार आचार समिति के अध्यक्ष बनाए गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here