IMAGE CREDIT-GETTY

तमिलनाडु के कुन्नूर में वायुसेना के हेलीकाप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने से चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत का निधन हो गया. इस हादसे में सेना के अन्य 11 जवानों का भी निधन हुआ है.गौरतलब है कि सीडीएस बिपिन रावत अन्य सैन्य अफसरों  के साथ वेलिंगटन में डिफेंस स्टाफ कालेज में एक कार्यक्रम में भाग लेना जा रहे थे.

सीडीएस बिपिन रावत की पत्नी मधुलिका रावत ने अपने पति का साथ जीवन के हर मोड़ पर दिया. वहीं मृत्यु के समय भी वो उनके साथ रहीं. मधुलिका मध्यप्रदेश के सोहागपुर में पैदा हुई थी.

रीवा घराने से संबंध रखने वाले उनके पिता कुंवर मृगेंद्र सिंह दो बार विधायक भी रहे थे. शहडोल में अभी भी उनका महलनुमा घर मौजूद है. बिपिन रावत और मधुलिका की शादी साल 1986 में हुई थी.

बिपिन रावत उस दौरान सेना में कैप्टन के पद पर थे. शादी के दौरान बिपिन रावत की पोस्टिंग सीमा पर थी. ऐसे में अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए उन्होंने अपने सैनिक मन के चलते परिवार से दूरी बनाए रखी. ऐसे में उनका मानना था कि परिवार के साथ रहने से वे अपनी जिम्मेदारियों को सही तरीके से नहीं निभा पाएंगे.

ऐसे में उन्होंने बच्चों की परवरिश की जिम्मेदारी मधुलिका पर छोड़ दी और खुद देश सेवा में लग गए. गौरकलब है कि जनरल बिपिन रावत की दो बेटियां है. बड़ी बेटी का नाम कृतिका रावत है. उनकी शादी मुंबई में हुई है. वहीं छोटी बेटी का नाम तारिणी है वो अभी पढ़ाई कर रही है. वो दिल्ली में अपने माता-पिता के ही साथ में रहती थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here