image credit-social media

कानपुर का बिकरु गांव और उससे संबंधित लोग अभी भी सुर्खियों में बने हुए हैं, विकास दुबे के खास गुर्गे जय बाजपेई के खिलाफ पुलिस का शिकंजा कसता ही चला जा रहा है, इस दौरान परिवारीजन सामने नहीं आए, हालांकि जब जय की संपत्तियों को जब्त किया जा रहा था तब पहली बार जय की पत्नी सामने आई और पुलिस प्रशासन की कार्रवाई पर सवाल खड़े किए, इसके साथ ही शिकायत करने वालों पर भी गंभीर आरोप लगाए.

जय बाजपेई की पत्नी बीच सड़क पर खड़े होकर चिल्ला रही था क्या मकान गलत पैसों से बनाया गया है क्या, क्या किसी के पास साक्ष्य है कि ये गलत पैसे से संपत्ति बनाई गई है. कहा कि जब जय को जेल भेजा जा रहा था इस समय मेरी स्थिति नहीं थी कि मैं किसी से बात करती इस कारण मैं उस समय कुछ भी बोल नहीं सकी थी.

image credit-social media

कहा कि ये वही मोहल्ला है जहां पर कभी भी पल्लू नहीं हटाया

श्वेता ने कहा कि ये वही मोहल्ला है जहां पर मैंने कभी भी पल्लू नहीं हटाया लेकिन यही बात इन मोहल्लेवालों को रास नहीं आई. इसी कारण आज घर से निकलकर इस तरह चिल्लाना पड़ रहा है, इन सबने ये तो कह दिया कि जय बुरे इंसान है. मगर किसी ने इस बात को ना तो बताया और ना ही स्वीकारा कि कितनी बार इन इलाकों वालों की ही मदद के लिए आगे आए.

श्वेता ने इस दौरान आरोप लगाया कि जय पर आरोप लगाया जा रहा है कि उसने विकास दुबे की पैसों से मदद की, क्या किसी के पास इन बातों को लेकर साक्ष्य हैं कि पैसे की मदद कैसे गई. उसका कहना था कि जैसे शिकायत करने वाला वकील पड़ोसी है वैसे ही विकास दुबे के रिश्तेदार पड़ोस में रहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here