आज के इस दौर में लोगों के लिए अपने लोगों से जुड़े रहना बेहद आसान काम हो गया है, अगर मन किया तो सीधे वीडियो काल कर हालचाल ले लिया जाता ह इसके अलाव मैसेज सेंड करने की सुविधा भी काफी आसान हो गई है. कई एप्स, जैसे व्हाट्सएप या मैसेंजर के जरिए लोग एक-दूसरे को टेक्स्ट भेज देते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि मैसेज की ये दुनिया पहले इतनी आसान नहीं थी.

आपको वो भी दौर याद होगा जब आपक एक मैसेज के बदले पैसे चुकाने पड़ते थे. इतना ही नहीं इसके बाद फ्री एसएमएस पैक्स आए और बाद में इसकी अनलिमिटेड वैधता को सौ और फिर पचास कर दिया गया. आज के समय में टेक्स्ट मैसेज काफी कम किया जाता है ज्यादातर लोग इंटरनेट के माध्यम से चैटिंग कर लेते हैं लेकिन असके बावजूद कुछ लोग आज भी नार्मल टेक्सट मैसेज को ही प्राथमिकता देते हैं.

ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि दुनिया के सबसे पहले टेक्स्ट मैसेज के बारे में. हाल ही में वोडाफोन यूके ने इस मैसेज के बारे में जानकारी दी है इसके साथ ही इंफार्म किया है कि दुनिया का सबसे पहला टेक्स्ट मैसेज जल्द नीलाम होने वाली नीलामी में मैसेज को करीब 1 करोड़ 71 लाख रुपये में बेचा जाएगा.

 दुनिया के सबसे पहले टेक्सट मैसेज की नीलामी होने वाली है इसे नील पापवोर्थ ने कंम्यूटर से अपने दूसरी साथी रिचर्ड जारविस को भेजा गया था. रिचर्ड जारविस तब कंपनी के डायरेक्टर थे. उनको ये एसएमएस आर्बिटल 901 हैंडसेट पर भेजा गया था. अब आपको इस बारे में बताते हैं कि इस मैसेज में क्या लिखा था. इस मैसेज के द्वारा क्रिसमस की शुभकामना दी ई थी इसमें मेरी क्रिसमस लिखा हुआ था.

इस मैसेज में 14 कैरेक्टर्स का इस्तेमाल किया गया था इसे 1992 में भेजा गया था इस मैसेज की नीलामी 21 दिसंबर को की जाएगी. इसे पेरिस के एगट्स आक्सन हाउस द्वारा नीलाम किया जाएगा. दुनिया का सबसे पहला टेक्सट मैसेज वोडाफोन द्वारा भेजा गया था. अब वोडाफोन इस मैसेज को नीलाम कर रहा है इससे कमाए हुए पैसों को वोडाफोन यूएनएचसीआर-यूएन रिफ्यूजी एजेंसी को दे देगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here